Friday, August 11, 2017

कत्लगाह


1 comment:

  1. बहुत खूब ... गहरा एहसास लिए शब्द ...

    ReplyDelete

अटल जी की अवधी बोली में लिखी कविता

मनाली मत जइयो मनाली मत जइयो, गोरी  राजा के राज में जइयो तो जइयो,  उड़िके मत जइयो,  अधर में लटकीहौ,  वायुदूत के जहाज़ मे...