Tuesday, December 12, 2017

तहज़ीब


2 comments:

  1. बहुत ही लाजवाब पन्क्तियाँ !!!!!!!!!!!

    ReplyDelete
  2. खूबसूरत पंक्तियाँ

    ReplyDelete

समलैंगिक प्रेम

बड़ा अजीब है प्रेम, किसी को भी हो जाता है, लड़की को लड़की से, लड़के को लड़के से भी, समलैंगिक प्रेम खड़ा है कटघरे में, अपराध है सभ्य समाज में...