Thursday, June 28, 2018

कबीर


1 comment:

  1. बाकी सब ठीक-ठाक समझ पाएं जी 🙏 पर 👇
    "खाये नौ मन पान" - यह क्या लिखा है ? इस भाषा पर रोशनी डाल देंगे तो आपकी बड़ी कृपा होगी जी 🙏

    ReplyDelete

मंदिर में महिलाएं

अधजगी नींद सी कुछ बेचैन हैं तुम्हारी आंखें, आज काजल कुछ उदास है थकान सी पसरी है होंठों के बीच हंसी से दूर छिटक गई है खनक, आओ...